lic jeevan anand policy in hindi / 915 plan

जिंदगी के साथ भी और जिंदगी के बाद भी इस स्लोगन को चरितार्थ करने वाली जो पॉलिसी है। वह lic jeevan anand है।

इस वाक्य के पीछे मेरा मकसद है आपको समझाना कि, यह पॉलिसी हमारे रहते मैच्यूरिटी देती है। उसके बाद भी पूरे जीवन हमारे ऊपर रिस्क कवर बना रहता है।

जब भी पॉलिसी धारक का जीवन समाप्त होता है, नामनी को दुबारा धनराशि मिल जाती है।

lic jeevan anand के साथ मेरा अनुभव

मैं अपने अनुभव की बात बताऊं तो सैकड़ों लोगों ने मेरे द्वारा अलग-अलग एल आई सी प्लान्स लिए है।

एक दिन जब मैनें लोगों के प्लान्स के डिटेल चेक किए तो मैंने पाया कि, 90% लोगों ने जीवन आनंद प्लान लिया है। ऐसा भी नहीं है कि, इस प्लान से मेरा कोई व्यकितत्व लगाव है।

बल्कि सच्चाई ये है की, यह लोगों की जरूरत के हिसाब से फिट बैठता है।

lic jeevan anand

lic jeevan anand plan –

यह एक ऐसी पॉलिसी है, जिसमें आप किसी टर्म के लिए बीमा लेते है। जब टर्म पूरा होता है। तो आपको मैच्यूरिटी मिल जाती है।

प्रवेश के समय न्यूनतम आयु18 वर्ष
प्रवेश के समय अधिकतम आयु50 वर्ष
न्यूनतम बीमाधन1 लाख
अधिकतम बीमाधनसीमा नहीं
पॉलिसी की अवधि15 से 35 वर्ष

लेकिन, मेच्योरिटी के बाद भी बिना कोई प्रीमियम दिए आपके जीवन पर रिस्क कवर बना रहता है।

जब भी जीवन समाप्त होता है। नामनी को दुबारा बीमाधन मिल जाता है।

जीवन आनंद प्लान लेने की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 50 वर्ष है। 18 से 50 वर्ष के बीच का कोई भी व्यक्ति इस प्लान को ले सकता है।

इस प्लान का न्यूनतम बीमा 1 लाख रूपये से शुरू होता है और अधिकतम बीमाधन की कोई लिमिट नही है। अर्थात अगर आप जीवन आनंद ले रहे है। तो कम से कम 1 लाख का बीमा लेना ही पड़ेगा।

आप जितने का भी लेते है। उसके सवा गुनें का रिस्क कवर आपको मिलता है।

मान लीजिए आपने 10 लाख का बीमा लिया तो आपके जीवन पर 12.5 लाख रूपये का रिस्क कवर मिल जाता है।

अगर बीमा टर्म के दौरान पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो नामनी को 10 लाख न मिलकर 12.5 लाख रूपये उस समय तक का बोनस मिल जाये

lic jeevan anand plan की अवधि

पॉलिसी की अवधि 15 से 35 वर्ष के बीच में है। मतलब कि, आप कम से कम 15 वर्ष और अधिक से अधिक 35 वर्ष के लिए बीमा ले सकते हैं।

इसमें मेच्योरिटी आयु 75 वर्ष रखी गई है। अर्थात, जब कोई 50 साल का व्यक्ति अधिकतम 25 वर्ष का ही बीमा ले पायेगा। क्योंकि, 25 वर्ष के बाद वह व्यक्ति 75 साल का पूर्ण हो जायेगा।

इसी तरीके से कोई 45 साल का व्यक्ति अधिकतम 30 वर्ष का बीमा ले पायेगा।

जैसा कि पहले आपको बताया जा चुका है कि, जीवन आनंद एक ऐसा प्लान है। जिसमें एक बार मैच्यूरिटी ले लेने के बाद भी आपके जीवन पर उतना ही रिस्क कवर बना रहता है।

जो कि, पॉलिसी धारक के ना रहने पर उसके नामनी को दे दिया जाता है। अगर आप चाहते हैं कि, जो पैसा हमारी जीवन समाप्ति के बाद नामनी को मिलने वाला है।

अधिक जानें : lic term insurance plan in hindi

वह पैसा हम अपने जीवन ही प्राप्त कर लें, तो ऐसा भी रास्ता बनाया गया है । अगर आप दुबारा मेच्योरिटी लेते है तो, आपके जीवन जीवन से रिस्क कवर समाप्त हो जाएगा।

उदाहरण- (lic jeevan anand)

रमेश की उम्र 30 वर्ष है और एक कपड़े का व्यापारी है। रमेश ने 10 लाख का जीवन आनंद प्लान लिया और टर्म  25 वर्ष के लिए चुना। तो 25 वर्ष के बाद उसे मैच्यूरिटी के रूप में लगभग 27 लाख रूपये मिल जायेगें।

जिसके लिए उसने बहुत कम प्रीमियम दिया होगा। इसके बाद भी रमेश के जीवन पर बिना कोई प्रीमियम दिये 10 लाख का बीमा उसके जीवन पर बना रहेगा।

जब भी रमेश की मृत्यु होगी तो नामनी को 10 लाख रूपये मिल जाएगा।  अगर 70 साल की उम्र के पहले रमेश की मृत्यु दुर्घटना से हो जाती है। तो नामनी को 20 लाख रूपये मिलेगा। रमेश की मृत्यु अगर 70 साल के बाद होती है।  तो सामान्य मृत्यु या दुर्घटना मृत्यु दोनों ही केस में नामनी को 10 लाख रुपए मिलेगा।

इससे अलग अगर रमेश की मृत्यु बीमा लेने के 25 वर्ष के भीतर ही मृत्यु हो जाती है। तो नामनी को सवा गुना पैसा अर्थात 10 लाख के बजाय 12.5 लाख रूपये प्लस बोनस मिल जायेगा।अगर टाइम के दौरान मृत्यु दुर्घटना से होती है तो रमेश के नामनी को 20 लाख रूपये प्लस बोनस मिलेगा।

यहां पर आपके मन में एक सवाल उठ रहा होगा कि, दुर्घटना में 12.5 लाख का डबल 25 लाख रुपए मिलना चाहिए।

किंतु आप दे ध्यान दें कि, नियम ये कहता है कि, दुर्घटना बीमा के डबल पैसा दिया जाता है। न कि, रिस्क कवर के।

Leave a Comment